Monday, November 22, 2010

साकारात्मक सोच

© Written by Tarang Sinha

प्रगति ,
फल है प्रयासों का
प्रयास,
फल है विश्वास का
विश्वास,
फल है आत्मबल का
आत्मबल,
फल है धैर्य का
धैर्य,
फल है साकारात्मक सोच का
साकारात्मक सोच,
जो बदल देती है जीवन कि दिशा
और वो दिशा होती है
प्रगति कि ओर...

0 Comments: